HomeEducationमोटोरोला कहा की कंपनी है ? और इसका मलिक कौन है

मोटोरोला कहा की कंपनी है ? और इसका मलिक कौन है

दोस्तों आप लोगों ने मोटरोला मोबाइल कंपनी का तो नाम जरूर सुना होगा यह स्मार्टफोन कम पैसा में लोगों को बढ़िया फोन देता है जिससे कि यह फोन पूरी दुनिया में बहुत ज्यादा फेमस है आज मैं आपको बताऊंगा कि इस फोन की कंपनी का मालिक कौन है और इस कंपनी की शुरुआत कब हुई थी और यह कंपनी किस देश की है मतलब कि मोटरोला फोन के बारे में आपको पूरी जानकारी इस लेख में मिलने वाला है तो चलिए शुरू करते हैं |
मोटोरोला मोबाइल कंपनी का मालिक कौन है?  मोटोरोला की स्थापना कब हुई? मोटो मोबाइल का कितना दाम है
मोटोरोला की स्थापना कब हुई ?

मोटरोला कंपनी का मालिक कौन है ?

आपकी जानकारी के लिए मैं बता दूं कि ट्रक कंपनी के मालिक का नाम पॉल ग्लोविंग और जोसेफ गोलेविंग है 

मोटोरोला थी कि शुरुआत कब हुई थी ?

मोटरोला कंपनी की शुरुआत 25 सितंबर 1928 को अमेरिका के एक शहर जिसका नाम है सीकांगो वहां से हुआ था और अगर मैं आपको बताऊं तो मोटरोला एक अमेरिकी कंपनी है 

मोटरोला कंपनी का इतिहास ?

दोस्तों जब मोटोरोला कंपनी खुला था तब शुरू में इन लोगों के पास पैसा नहीं था कि इस कंपनी में वह पैसा लगा है और कंपनी को ऊपर बढ़ाएं और इनके पास कोई रूम भी नहीं था कि उस कंपनी को किसी रूम में खोलें इनके पास सिर्फ 5 दोस्त थे जो कि इस कंपनी में काम करना चाहते थे इन्होंने अपनी कंपनी के लिए बहुत सारे इन्वेस्टर को खोजा लेकिन किसी ने भी इनकी कंपनी में पैसा इन्वेस्ट नहीं किया तभी कुछ ही पैसों में इस कंपनी को खोला गया जब यह कंपनी खुला तब इसका नाम glovin manufacturing corporation company रख दिया गया और पहले इस कंपनी में कोई स्मार्टफोन नहीं बल्कि बैटरी बनाया जाता था लेकिन बैटरी का धंधा इनका सही नहीं चल रहा और इसमें कंपनी घाटे में जाने लगी तब इनके दोस्त ने एक आईडिया दिया और उन्होंने रेडियो बनाने का काम शुरू किया और देखते-देखते रेडियो बनाते बनाते यह कंपनी घाटे से सौदे में आ गई जब यह कंपनी काफी ज्यादा प्रचलित होने लगा तब इसका नाम बदलकर मोटोरोला रख दिया गया क्योंकि दोनों दोस्त सोच समझ के इस नाम को रखे थे 

मोटरोला कंपनी क्यों घाटे में चली गई ?

मोटरोला कंपनी जब अपना रेडियो और कारपोरेशन बनाकर काफी चाहता ऊंचाइयां छू रही थी तब लोगों की बहुत ज्यादा डिमांड आने लगी मोटरोला स्मार्टफोन की तब यह कंपनी भी अपने और सारी चीजों को छोड़कर बस मोबाइल बनाने पर लग गई और बस यह कंपनी यही गलती कर दी किसी तरह करके इस कंपनी ने अपना पहला स्मार्टफोन लॉन्च किया DYNTAC 8000 X तो यह फोन बहुत ज्यादा चला अब उसके बाद मोटोरोला कंपनी अलग-अलग कंपनी की स्मार्टफोन बनाने लगी लेकिन अब साल 2007 आया तब मोटोरोला कंपनी घाटे में चली गई और तब उन लोगों को इस कंपनी को दो भागों में करना पड़ा 
पहला भाग का नाम मोटरोला मोबिलिटी रखा गया और दूसरा भाग का नाम मोटरोला सलूशन रखा गया 

लेनोवो मोटोरोला को क्यों खरीदा ?

जब मोटरोला कंपनी काफी ज्यादा घाटे में चल रही थी तब गूगल ने मोटोरोला मोबिलिटी को खरीद लिया और यह बात 2012 की है और उसके बाद गूगल ने इस कंपनी को लेनोवो के पास भेज दिया और आप लोगों को पता है लेनोवो एक चाइनीज कंपनी है अब लेनोवो कंपनी फिर से मोटोरोला को ऊपर उठाने की कोशिश कर रही है 

क्या मोटरोला एक चाइनीज कंपनी है ?

तो इसका जवाब है हां क्योंकि अभी इस कंपनी का सारा कंट्रोल चाइना के पास है क्योंकि गूगल ने मोटोरोला को खरीद कर लेनोवो के पास भेज दिया और लेनोवो एक चाइना की कंपनी है तो आप लोग इस बात से अंदाजा लगा सकते हैं |
तो दोस्तों यही तक कुछ मोटरोला कंपनी का इतिहास अगर आपको जानकारी पसंद आए तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करिएगा आपके मन में कोई भी प्रश्न है तो मुझे नीचे कमेंट करिए गा |
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular