HomeTechnologyवॉकी टॉकी क्या है और कैसे काम करता है | what is...

वॉकी टॉकी क्या है और कैसे काम करता है | what is walkie talkie in Hind

नमस्कार दोस्तों आज हम लोग बात करने वाले हैं walkie Talkie के बारे में यह क्या होता है और इसे कैसे इस्तेमाल किया जाता है आज के जमाने में लोग 5G और 4G फोन इस्तेमाल कर रहे हैं लेकिन अभी भी वॉकी टॉकी का इस्तेमाल होता है कि आप लोग जानकर मुझे पता है काफी ज्यादा हैरान हुए हैं आप लोग को जानकर हैरानी होगी कि वॉकी टॉकी का इस्तेमाल अभी से नहीं बल्कि जब युद्ध होता था तभी से इस्तेमाल किया जाता है आज मैं आप लोगों को इसके बारे में पूरी जानकारी दूंगा आपके अपने भाषा हिंदी में तो हमारे साथ पूरा जरूर बने रहिएगा 

AVvXsEi77cvq17qhBmsx4KnWiFk CBUNT2J0mGeNfj VOl1K0ycksy8nrOZ6axtGNB7ytcLv9LHoDDgHR2Xow310dXX YuGKHPxehoS8ti4 vpwnN NuBAWfCjnxsDRQn9DbL4o9L6C0th2DdrUOFaxSbHvrJA5M2vWlzmW6QdlywWsLWo65mgldomanfgJ=w400 h266

वॉकी टॉकी क्या है | what is walkie Talkie in Hindi 

वॉकी टॉकी का जो इतिहास है वह आज का नहीं बल्कि वर्ल्ड वॉर टू से चलता हुआ आ रहा है वर्ल्ड वॉर टू में एक इंसान के पीठ पर एक छोटा सा बैग रहता था उस पर एंटीना निकला हुआ रहता था और उसके पीछे एक इंसान एक छोटा सा Walkie Talkie लेकर अपने पूरे टीम से बात करता था अब इसका मतलब तो आप लोग समझ ही गए होंगे कि जो वॉकी टॉकी रहता है वह हम लोग एक दूसरे के पास बात करने के लिए या फिर मैसेज करने के लिए इस्तेमाल करते है
अक्सर आप लोगों ने देखा होगा पुलिस वालों को या फिर बॉर्डर पर हमारी सुरक्षा कर रहे हमारे फौजी भाइयों को जो Walkie Talkie लेकर ही हमेशा बात करते रहते हैं इसका क्या फायदा है चलिए मैं आप लोगों को बताता हूं मान लीजिए एक ग्रुप में 10 मेंबर है और उन लोगों को हर एक सेकंड आपस में कनेक्ट जाना है और बात करते रहना है तो वह स्मार्टफोन का इस्तेमाल नहीं करेंगे वह करेंगे वॉकी टॉकी का इस्तेमाल क्योंकि वॉकी टॉकी की फ्री रहता है और वह खुद का अपना एक नेटवर्क क्रिएट करता है उसको मोबाइल के नेटवर्क से कुछ नहीं लेना देना रहता है 

वॉकी टॉकी का इस्तेमाल क्यों किया जाता है | Why do people use walkie talkies

अब आप लोग सोच रहे होंगे कि जब लोगों के पास इतने महंगे महंगे मोबाइल फोन है और अनलिमिटेड कॉलिंग मिलता है तब भी लोग वॉकी टॉकी का इस्तेमाल क्यों करते हैं तो चलिए इसके मैं कुछ आप लोगों को कारण बताता हूं 
1• जब भी कोई इंसान किसी बड़े और खतरनाक जंगल में जाता है सैर करने के लिए तो वह अक्सर वॉकी टॉकी लेकर जाता है क्योंकि जंगल में नेटवर्क नहीं रहता है और जब कई टीमें एक साथ रहते हैं तो उनको वॉकी टॉकी की जरूरत जरूर से पड़ेगी यह बिना नेटवर्क के काम करता है यह खुद का नेटवर्क बना सकता है और इसके कुछ रेंज रहते हैं अगर आप रेंज के अंदर है तो आप लोगों से एक रेडियो की तरह बात हो सकती है 
2• दूसरा बड़ा कारण यह है कि इसका इस्तेमाल पुलिस वाले और हमारे देश के वीर जवान ज्यादा से ज्यादा करते हैं इसका यह कारण है कि अगर उनको कोई पर्सनल मैसेज भेजना है या फिर किसी मुजरिम को पकड़ना है और उन्होंने एक टीम बनाया हुआ है खुद का तो हर सेकंड का मैसेज पहुंचाने के लिए वह वॉकी टॉकी का इस्तेमाल करते हैं 

वॉकी टॉकी काम कैसे करता है | how walkie talkie works 

देखिए अगर आप लोगों को समझना है कि वह की walkie Talkie काम कैसे करता है तो इसका एक बहुत ही सिंपल फंडा है जिस तरह पहले के समय में आप लोग एक रेडियो में एक फ्रीक्वेंसी सिलेक्ट करते थे और उसी फ्रीक्वेंसी पर रेडियो स्टेशन पकड़ता था जिस पर गाना न्यूज़ या फिर कुछ जरूरी चीजें देता था ठीक उसी प्रकार से अगर आप लोगों को एक वॉकी टॉकी से अपने दूसरे टीम के पास वॉकी टॉकी पर मैसेज भेजना है तो आप लोगों को सबसे पहले एक कोड सिलेक्ट करना होगा और दोनों Walkie Talkie का कोड सेम रहना चाहिए अगर अलग अलग रहेगा तो वह कनेक्ट नहीं होगा
वॉकी टॉकी में सबसे ऊपर एक सिग्नल के लिए वायर दिया रहता है और उसके बगल में एक बटन दिया रहता है जिसे घुमाने पर वॉकी टॉकी ओपन होता है और उसके बगल में एक और बटन दिया रहता है जिसे घुमाने से Walkie Talkie का आवाज तेज होता है और जो आप लोग सिग्नल यानी की फ्रीक्वेंसी सेट करना चाहते हैं एक दो या फिर तीन तो आप लोग उसे सेट कर सकते हैं 
और उसके पीछे दो ऑरेंज कलर का बटन दिया रहता है एक बटन से आप लोग लाइट जला सकते हैं और उसे बिलिंग करवा सकते हैं और दूसरे बटन से आप लोग अपने साथी के साथ कनेक्ट हो सकते हैं और उसके पास जो भी मैसेज चाहे या फिर बात करना चाहते हैं तो कर सकते हैं इसका इस्तेमाल बहुत ही सिंपल है लेकिन हां आप लोगों का जो frequency है जो सिग्नल है वह बिलकुल सेम रहना चाहिए 
जब भी आप लोगों का साथी आपके वायरलेस Walkie talkie पर मैसेज देगा तो उस पर एक हरा कलर का बत्ती रहता है वह ओपन और ऑफ होने लगेगा तो समझ जाइए आपका कोई साथी आपके पास इमरजेंसी मैसेज दे रहा है 

वॉकी टॉकी का इतिहास | history of walkie talkie

वॉकी टॉकी का आविष्कार 1940 में हुआ था इसका इतिहास बहुत ही ज्यादा पुराना है जब वर्ल्ड वॉर टू हो रहा था तभी इसका इस्तेमाल किया जा रहा था एक कमांडर अपनी पीठ पर एक बैग लटकाए रात में पूरा वॉकी टॉकी का सामान लगा हुआ था और एक इंसान पीछे से लोगों से कांटेक्ट करता था वायरलेस के जरिए फ्रीक्वेंसी सेट करके जैसी जैसी टेक्नोलॉजी आगे बढ़ती गई वैसे-वैसे वॉकी टॉकी को और ज्यादा एडवांस और छोटा रूप दे दिया गया जो पहले क्यों वॉकी टॉकी से बहुत ही ज्यादा तेज काम करता है walkie talkie को सबसे पहले दो प्रज्ञा निकों ने मिलकर बनाया था एक का नाम मैगनुस्की हेनरिक इनका जन्म पोलैंड में हुआ था ओरिया मोटरोला की कंपनी में काम करते थे उन्होंने सबसे पहले एससीआर 300 का आविष्कार की है जो walkie talkie जैसा ही काम करता था और इसमें इनका साथ दिए थे अलग्रास जोकि यहां टोरंटो कनाडा के रहने वाले थे यह भी एक महान वैज्ञानिक थे और इन्हीं दोनों लोगों की वजह से आज वॉकी टॉकी का लाभ लोगों को उठाने को मिल रहा है
FAQ
क्या भारत में भूखी टोकी का इस्तेमाल करना गैर कानूनी है ?
नहीं भारत में आप लोग वॉकी टॉकी का इस्तेमाल कर सकते हैं भारत में दो तरह के वॉकी टॉकी इस्तेमाल होता है एक बिना लाइसेंस का और एक लाइसेंस
वॉकी टॉकी कितने रुपए का मिलता है भारत में ?
वॉकी टॉकी आप लोगों को उसके रेंज के उसके मॉडल के और उसके कंपनी के हिसाब से मिलता है जितना ज्यादा पैसा खर्च करेंगे उतना ही अच्छा आपको मिलेगा 
वॉकी टॉकी कितना दूर तक काम करता है ?
वॉकी टॉकी लगभग 1 किलोमीटर से लेकर 2 किलोमीटर तक कलेक्शन जा सकता है 

आप लोगों ने क्या सीखा 

इस लेख में मैंने आप लोगों को वॉकी टॉकी के बारे में पूरी जानकारी दी जानकारी पसंद आया होगा अपने दोस्तों के साथ भी शेयर करिएगा ~ धन्यवाद ~
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular