bharat ke sabse bade nadi river 2023 Bharat Bharat

भारत की 10 सबसे लंबी नदियाँ | Bharat Ki Sabse Lambi Nadi

हमारे देश भारत को नदियों का संगम कहा जाता है भारत में बहुत सारी नदियां बहती है जो अपने अपने किसी कारण से हमेशा चर्चा में रहती हैं किसी भी देश की अर्थव्यवस्था को बनाए रखने के लिए नदियों का रहना बहुत ज्यादा आवश्यक होता है भारत में बहने वाली 10 सबसे लंबी नदियों के नाम बताऊंगा अगर आप लोग किसी परीक्षा की तयारी कर रहे है तू यह बहुत ही ज्यादा उपयोगी प्रश्न छात्रों के लिए यह आप लोगों से कभी पूछा जा सकता है

सिंधु नदी [ Sindhu Nadi ] 

लंबाई 3,610 किलोमीटर

सिंधु नदी भारत की सबसे लंबी नदी है और यह पाकिस्तान भारत जम्मू कश्मीर पश्चिम तिब्बत के मध्य से होकर बहती है और यह नदी तिब्बत के मानसरोवर के निकट बाब जलधारा माना जाता है की लंबाई 3610 किलोमीटर है लगभग

ब्रह्मपुत्र नदी [ Brahmputra Nadi ]

लंबाई 3,848 किलोमीटर

ब्रह्मापुत्र नदी को भारत के सबसे लंबी नदियों की लिस्ट में शामिल किया गया है यह तिब्बत अरुणाचल प्रदेश असम से होकर बांग्लादेश की सीमा से दक्षिण में बहती हुई गंगा के साथ मिल जाती है और सीधे बंगाल की खाड़ी में जाकर मिलती है इस नदी को अलग-अलग देशों में अलग अलग नाम से जाना जाता है

बांग्लादेश – जमुना

चीन – या लू त्सांग 

अरुणाचल प्रदेश – देहांग

गंगा नदी [ Ganga Nadi ]

लंबाई 2,510 किलोमीटर

गंगा नदी भारत की सबसे पवित्र नदी और पूजनीय नदियों में से एक है गंगा नदी भारत के बड़े-बड़े प्रदेश वजह से उत्तराखंड उत्तर प्रदेश बिहार झारखंड पश्चिम बंगाल आदि राज्यों से होकर गुजरती है और यह सीधे जाकर यमुना घाघरा रामगंगा सरयू कोसी से आकर दक्षिण पठार से टकराकर गंडक नदी में मिल जाती हैं और यह नदी भारत में ही नहीं बल्कि नेपाल बांग्लादेश से भी होकर गुजरती है

गोदावरी नदी [ Godavari Nadi ]

 लंबाई 1,465 किलोमीटर 

गोदावरी नदी भारत की बहुत प्रसिद्ध नदी है और यह प्रदीप विभाग के तंत्र का बहुत बड़ा हिस्सा है यह महाराष्ट्र और नासिक से निकलकर सीधे बंगाल की खाड़ी में जाकर गिरती है और इसकी सहायक नदियां उत्तर प्रदेश उड़ीसा आंध्र प्रदेश छत्तीसगढ़ से होकर गुजरती है और इस नदी को गौतमी के नाम से भी जाना जाता है लोगों की माने तो इस नदी में नहाने से सारे पाप धुल जाते हैं

कृष्णा नदी [ Krishna Nadi ] 

लंबाई 1,400 किलोमीटर 

कृष्णा नदी भारत की प्रमुख नदियों में से एक है और यह नदी पश्चिम घाट के पर्वत महाबलेश्वर से निकलती है और यह बाद में जाकर महाराष्ट्र कर्नाटक तेलंगाना आंध्र प्रदेश से निकलकर सीधे बंगाल की खाड़ी में जाकर गिरती है और कृष्णा नदी पर दो बात बनाए गए हैं जिनमें से एक स्त्री से आलम और दूसरा नागार्जुन पहाड़ी पर है

यमुना नदी [ Yamuna Nadi ] 

लंबाई 1,376 किलोमीटर

यमुना नदी भारत में स्थित है और इसको गंगा नदी का सहायक भी कहा जाता है और इसको यमुनोत्री के नाम से भी जाना जाता है यह नदी उत्तरकाशी के गढ़वाल में से निकलती है और प्रयागराज में जाकर गंगा नदी में मिल जाती है यमुना नदी हिमाचल प्रदेश राजस्थान हरियाणा दिल्ली मध्य प्रदेश से बहती हुई उत्तर प्रदेश के प्रयागराज गंगा में जाकर मिलती है .

नर्मदा नदी [ Narmada Nadi ] 

लंबाई 1,312 किलोमीटर

नर्मदा नदी को रेवा के नाम से भी जाना जाता है और यह मध्य भारत की एक बहुत ही प्रचलित नदी है नर्मदा नदी पश्चिम की ओर से बहती एक चट्टान से टकराकर नीचे गिरती है और कपिलधारा नाम के जल पर्याप्त में मिल जाती है पौराणिक कथाओं के अनुसार नर्मदा नदी के 15 नाम है और यह भी कहा जाता है कि नर्मदा नदी राजा मैखल की पुत्री थी

महानदी [ Mahanadi ] 

लंबाई 858 किलोमीटर

महानदी को छत्तीसगढ़ और उड़ीसा की सबसे बड़ी नदी माना जाता है और इसका प्राचीन काल का नाम चित्रोप्ला था और यह महानदी रायपुर से निकल के सिहावा नामक पर्वत श्रेणी से होकर दक्षिण से उत्तर की तरफ निकलती है और सोडून नदियों तक आते-आते

यह विशाल रूप धारण कर लेती है यह महानदी छत्तीसगढ़ से निकलकर सिहावा तक जाती है और उसके बाद बंगाल की खाड़ी में गिरती है और इसकी सहायक नदियां शिवनाथ नदी हसदेव नदी केलो नदी और भी बहुत सारे हैं 

कावेरी नदी [ Kaveri Nadi ]

लंबाई 800 किलोमीटर

पौराणिक कथाओं के अनुसार कावेरी नदी की उत्पत्ति गणेश जी के कारण हुआ था कावेरी नदी तमिलनाडु और कर्नाटक से निकलती है और कावेरी नदी में कनका हेमावती और भी बहुत सारे बड़ी नदियां आकर मिलती है ओरिया नदी दक्षिण पूर्व में प्रवाहित होकर बंगाल की खाड़ी में जाकर गिरती है और वही बसा हुआ तिरुचिपारली हिंदुओं का प्रसिद्ध तीर्थ स्थान है 

ताप्ती नदी [ tapti nadi ]

लंबाई 724 किलोमीटर

ताप्ती नदी गुजरात और पश्चिम भारत की एक बहुत ही प्रसिद्ध नदी है या मध्य प्रदेश के राज्य बैतूल जिले से निकलकर मध्य के पश्चिम की ओर बहती है और वहीं से महाराष्ट्र और छोटे-छोटे पर्वत पठारो से गुजरकर सूरत पहुंच जाती है और उसके बाद गुजराती स्थित अरब सागर में गिर जाती है और सूरत का बंदरगाह इसी नदी के मुहाने पर स्थित है और इसकी सहायक नदियां  वादूरा नदी बोरी नदी और ऑनर नदी है 

और भी पढ़े …

फौजी को काबू में कैसे करें, औकात में रहकर सर्च करो

मोबाइल से डिलीट Photo और Video वापस कैसे लाएं

यो व्हाट्सएप डाउनलोड कैसे करें 2023

शेयर मार्केट कैसे सीखे पूरी जानकारी हिंदी में

बिना Watermark वाला Kinemaster कैसे डाउनलोड करें 

लेख का आखरी निष्कर्ष

आज के इस पोस्ट में मैंने आप लोगों को बताया है कि भारत की 10 सबसे लंबी नदियाँ | Bharat Ki Sabse Lambi Nadi अगर आपको जानकारी अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ शेयर करिएगा 

अगर आप लोग मुझसे कुछ प्रश्न पूछना चाहते हैं या मुझे कोई सुझाव देना चाहते हैं तो आप लोग नीचे कमेंट कर सकते हैं या हमारे Contact Us पेज को देख सकते हैं

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2023 में नया बिजनेस कौन सा करें WhatsApp Account को हमेशा के लिए Delete कैसे करे 2023  2023 में पैसा कमाना चाहते है तो यह काम करे 10,000 लगाकर शुरू करे व्यापार होगी लाखो में कमाई Samsung Galaxy S22 Ultra Smartphone Review