लाभ और हानि | फार्मूला ट्रिक और उदाहरण ( परिभाषा सूत्र )

आज हम आपको बताने वाले लाभ और हानि के बारे में लाभ और हानि हमारे जीवन के बहुत महत्वपूर्ण पहलू है क्योंकि लाभ और हानि हमारी डेली लिविंग जिंदगी से जुड़ा हुआ है 

आपको भी कई बार मुसीबत होती होगी कि लाभ और हानि के प्रश्न में बहुत कम बच्चे ऐसे होते हैं जिन्हें यह आसान लगता है लेकिन आज हम आपको इसे इस तरीके से समझाएंगे कि आपको यह इतना सिंपल लगने लगेगा कि आप जब भी इसके प्रश्न सवाल कर रहे होंगे तो आपको बहुत फन जैसा लगेगा

लाभ और हानि | फार्मूला ट्रिक और उदाहरण ( परिभाषा सूत्र )

हमने आपके लिए कुछ ऐसे तरीके खोज निकाले हैं जिसकी मदद से आप लाभ हानि के रखना आसानी से कर सकते हैं लाभ हानि आपका बहुत काम आने वाला है हमने कई सारी पुस्तकों से इसके बारे में ज्ञान लिया है और उसे ज्ञान को  हमने आपके सामने लाया है

लाभ को अंग्रेजी में क्या कहते हैं ?

लाभ को अंग्रेजी में प्रॉफिट कहते हैं

लाभ और हानि से जुड़े हुए प्रश्न हमें कंपटीशन एग्जाम में देखने को मिलते हैं लेकिन आज हम आपको तरीके बताने वाले हैं आपके लिए बहुत ही फायदेमंद होंगे जब भी आप कोई कंपटीशन एग्जाम में या किसी 

अन्य एग्जाम में इन प्रश्न को सोल करने का प्रयास करेंगे तो यह आसानी से सॉल्व हो जाएंगे इसके लिए आपको हमारी पूरी पोस्ट पड़ेगी अब तक आते आते आप आसानी से लाभ और हानि के बारे में सीख जाएंगे

अगर आप किसी शब्द को अच्छे से जानना चाहते हैं तो उस शख्स के लिए आपको उसकी परिभाषा को ध्यान होना जरूरी है और उसका उदाहरण जरूर आपको इन दोनों के बारे में जांच हो जाए तो आप लाइव 

टाइम इसे याद रखेंगे हम आपको बताते हैं कि क्या होता है सिंपल शब्दों में दिखा जाए तो जब हमें कोई नई चीज मिलती है तब हम उसे लाभ कहते हैं और जब  हमारे पास से कोई चीज चली जाती है तो हम उसे हानी कहते हैं और हम आपको बता दें कि इसी लेनदेन की प्रक्रिया को गणित रोचक बना देती है

लाभ हानि से जुड़े कुछ महत्वपूर्ण शब्दों के बारे में अब हम आपको जानकारी देंगे

1. छुट या डिस्काउंट – जब हम कभी किसी दुकानदार के पास जाते हैं तो वहां आप उसको समान की रेट कम करने के लिए कहते हैं या या फिर आप उसे कहते हैं कि पैसे कम कर दीजिए तो अगर दुकानदार पैसे कम कर देता है तो उसी को डिस्काउंट या छूट कहते हैं 

2. अंकित मूल्य – अंकित मूल्य उसे कहा जाता है जब आप कोई सामान खरीदने जाते हैं तब उस सामान के ऊपर सरकार द्वारा दी गई जो रेट होती है उसे अंकित मूल्य कहा जाता है

3. बट्टा – अगर हम कुछ सामान खरीदने जा रहे हैं और उस सामान की जो अंकित मूल्य है उसे कम कर दिया जाए तो उसे बट्टा कहते हैं

विक्रय और क्रय मूल्य किसे कहते है ? परिभाषा

1. विक्रय मूल्य – जब कोई वस्तु जीत किसी भी मूल्य पर बेची जाती है तो उसे विक्रय मूल्य कहते हैं

2. क्रय मूल्य – जो वस्तु जब भी जिस किसी भी मूल्य पर खरीदी जाती है तो उसे क्रय मूल्य या फिर लागत मूल्य कहते हैं

•आइए अब हम आपको बताते हैं लाभ और हानि के सूत्र के बारे में जिसकी मदद से आप प्रश्न को सरल कर पाएंगे

हानी किसे कहते हैं ?

जब कभी किसी वस्तु का विक्रय मूल्य उसके क्रय मूल्य से कम होता है तो उसे हानि कहते हैं

हानि के सूत्र

1. हानि = क्रय मूल्य – विक्रय मूल्य

2. या विक्रय मूल्य = क्रय मूल्य – हानि

3. या क्रय मूल्य = विक्रय मूल्य + हानि

4. प्रतिशत हानि = हानि/क्रय मूल्य × 100

लाभ के सूत्र

1. लाभ = विक्रय मूल्य – क्रय मूल्य

2. विक्रय मूल्य = क्रय मूल्य + लाभ

3. क्रय मूल्य = मूल्य विक्रय – लाभ

4. प्रतिशत लाभ = लाभ/क्रय मूल्य × 100

लाभ हानि के सूत्र | Profit And Loss Formula

1. लाभ = विक्रय मूल्य – क्रय मूल्य

2. हानि = क्रय मूल्य – विक्रय मूल्य

3. विक्रय मूल्य = लाभ + क्रय मूल्य

4. विक्रय मूल्य = क्रय मूल्य – हानि

5. क्रय मूल्य = विक्रय मूल्य – लाभ

6. क्रय मूल्य = हानि + विक्रय मूल्य

7. लाभ% = लाभ/क्रय मूल्य × 100

8. लाभ = (लाभ %/100 + लाभ) × विक्रय मूल्य

9. हानि% = हानि/क्रय मूल्य × 100

10. हानि = (हानि %/100 – हानि) × विक्रय मूल्य

11. विक्रय मूल्य = क्रय मूल्य (1 + लाभ/100)

12. क्रय मूल्य = विक्रय मूल्य / (1 + लाभ/100)

13. विक्रय मूल्य = क्रय मूल्य (1 – हानि/100) क्रय मूल्य = विक्रय मूल्य/(1 – हानि/100)

14. बट्टा = लिखित मूल्य – विक्रय मूल्य

15. लिखित मूल्य = बट्टा + विक्रय मूल्य

16. विक्रय मूल्य = लिखित मूल्य – बट्टा

17. बट्टा % = (बट्टा/लिखित मूल्य) × 100

18. बट्टा = (बट्टा %/लिखित मूल्य) × 100

19. N वर्ष पश्चात जनसंख्या = वर्तमान जनसंख्या × (1 + दर/100) समय

20. N वर्ष पूर्व जनसंख्या = वर्तमान जनसंख्या/(1 + दर/100 ) समय

21. मिश्रधन = मूलधन + ब्याज

22. सरल ब्याज = मूलधन × दर × समय/100

23. मूलधन =100 × ब्याज/दर × समय

24. समय =100 × ब्याज/दर × मूलधन

25. दर =100 × ब्याज/समय × मूलधन

26. ब्याज = मिश्रधन – मूलधन

27. चक्रवृद्धि मिश्रधन = मूलधन × (1 + दर/100) समय

28. चक्रवृद्धि ब्याज = मूलधन × (1 + दर/100) समय – मूलधन

कृपया ध्यान दें – ब्याज अर्धवार्षिक देय हो तो : दर = R/2, समय = T×2

आइए अब हम जानते हैं लाभ और हानि के कुछ ट्रिक्स के बारे में

1. प्रतिशत लाभ या प्रतिशत हानि

अगर ₹100 पर जितने भी प्रतिष्ठित लाभ अथवा हानि होते हैं उसे प्रतिशत लाभ अथवा प्रतिशत हानि कहा जाता है ऐसा तो आपको पता ही होगा और जो लाभ और हानि काजू प्रतिशत होगा वह हमेशा क्रय मूल्य पर ज्ञात किया जाता है |

प्रतिशत हानि = हानि × 100 / क्रय मूल्य

प्रतिशत लाभ = लाभ × 100 / क्रय मूल्य

1. मैं आपको बताता हूं एक जबरदस्त स्ट्रीट देखिए जैसे आप किसी वस्तु को 450 रुपया में बेचने से उतना लाभ होता है जितना 250 रूपया मैं बेचने से हानि होती है उस वस्तु का क्रय मूल्य कितना है ?

Short trick –  जितना+उतना/2 मतलब

जितना 250/2+उतना 450/2

= 250+450/2

= 700/2

= 350

( अगर आपको जाबी जितना लाभ उतना हानि या जितनी हानि उतना लाभ दिख जाए तो आप , ( जितना + उतना/2 यह ट्रिक यूज़ करो )

सबसे महत्वपूर्ण बात कि आप हमेशा याद रखें कि जो लाभ और हानि का प्रतिशत होता है वह हमेशा क्रय मूल्य पर निकलता है

लाभ = विक्रय   – क्रय मूल्य

हानि = क्रय मूल्य – विक्रय 

प्रतिशत लाभ = लाभ/क्रय मूल्य × 100

3. अगर B वस्तु A वस्तु रुपए में खरीदी जाए और A वस्तु B रुपए में खरीदी जाए तो – 

लाभ % =  (( a² – b² ) ÷ x²)× 100 %

हानि % = (( b² – a² ) ÷ x²)× 100 %

● अगर B बड़ा है तो लाभ और लाभ प्रतिशत = ( b – a ) / b × 100

● अगर A बड़ा है तो हनी और हनी प्रतिशत = ( a – b ) / b × 100

उदाहरण

1. एक औरत कुछ बाजार से सामान खरीदने में 5% और बेचने में 20% की हेराफेरी करती है तो उसे कितना लाभ होगा ?

उत्तर – 20 + 5 + 20×5/100 = 25+1 =26 प्रतिशत

2.  क्यों किसी वस्तु का अगर क्रय मूल्य 3000 है और उस वस्तु की विक्रय मूल्य ₹3200 हैं वस्तु का लाभ बताइए ?

A. 6% लाभ

B. 8% लाभ

C. 4% हानि

D. 3% हानि

आइए अब सूत्र की मदद से सॉल्व करते हैं

लाभ = विक्रय मूल्य – क्रय मूल्य

लाभ = 3200 – 3000

= 200

लाभ = लाभ / क्रय मूल्य × 100

200 / 3000 × 100

6% लाभ

3. अगर एक कपड़े का क्रय मूल्य ₹400 है और विक्रम मूल्य ₹550 हैं तो बेचने पर कितने रुपए और कितने प्रतिशत का लाभ होना चाहिए ?

A. 50%

B. 20%

C. 15%

D. 37%

आइए इस सूत्र के मदद से इसे सरल बनाते हैं

हल:- प्रश्नानुसार,

लाभ = विक्रय मूल्य – क्रय मूल्य

लाभ = 550 – 400

लाभ = 150

लाभ = लाभ / क्रय मूल्य × 100

लाभ = 150/400 × 100

= 30%

और भी पढ़े ..

Free Me IPL 2023 Match kaise Dekhe
Jio Coin क्या है पूरी जानकारी
सेटेलाइट क्या है और कैसे काम करता है
उत्तर प्रदेश में कितने जिले हैं नाम की लिस्ट
पावर बैंक क्या है और कैसे काम करता है

निष्कर्ष

मैंने आपको आज के इस पूरे आर्टिकल मैं लाभ और हानि के बारे में जानकारी दी है और कुछ ट्रिक्स आपको बताइए अगर आप इस ट्रिक्स को और उदाहरण अच्छे से पढ़ लेते हैं 

और आप प्रैक्टिस करते रहते हैं तो आप जरूर सफल बनेंगे मैं उम्मीद करता हूं आपको मेरा आर्टिकल अच्छा लगा होगा अगर आपको आर्टिकल में कुछ समझ नहीं आया हो तो आप नीचे कमेंट सेक्शन में पूछ सकते हैं धन्यवाद

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2023 में नया बिजनेस कौन सा करें WhatsApp Account को हमेशा के लिए Delete कैसे करे 2023  2023 में पैसा कमाना चाहते है तो यह काम करे 10,000 लगाकर शुरू करे व्यापार होगी लाखो में कमाई Samsung Galaxy S22 Ultra Smartphone Review