HomeEducationडीमैट अकाउंट क्या होता है | What is Demat Account | इसके...

डीमैट अकाउंट क्या होता है | What is Demat Account | इसके नुकसान और फायदे

कई सारे लोग डीमेट अकाउंट के बारे में सुनते हैं लेकिन उन्हें यह नहीं पता कि डिमैट अकाउंट क्या होता है ? डिमैट अकाउंट का प्रयोग कहां किया जाता है ? डीमेट अकाउंट और ट्रेडिंग में क्या अंतर है

और अधिकतर लोग शेयर बाजार में पैसा निवेश करना चाहते हैं लेकिन उन्हें यह नहीं पता कि उसके लिए डीमेट अकाउंट का होना बहुत ही आवश्यक है बिना डीमेट अकाउंट है आप शेयर बाजार में पैसा निवेश नहीं कर सकते अगर किसी व्यक्ति को अपने पैसे को ट्रेडिंग करना है तो उसे डिमैट अकाउंट बनाना ही पड़ेगा

मैंने आपके लिए हो सके उतनी जानकारी इस आर्टिकल में प्रदान की है ताकि आपको यह मालूम हो जाए कि डीमेट अकाउंट क्या है और इसका प्रयोग क्या है डिमैट अकाउंट क्यों बनाया जाता है अगर आप इस आर्टिकल को पूरा अच्छे तरीके से पढ़ते हैं 

तो मैं आपको वादा करता हूं कि आपको डिमैट अकाउंट के बारे में जानकारी मिल जाएगी आप अपना समय निकाल कर इस पूरे आर्टिकल को जरूर पढ़ें ऐसा ना करें कि आप आधे आर्टिकल को पढ़ने का प्रयास कर रहे हो 

अगर आप आगे आर्टिकल को पढ़ेंगे तो आपको जानकारी पूरी प्राप्त नहीं हो पाएगी और आप डिमैट अकाउंट खोलने में और सफल नहीं  हो सकते हैं

तो आइए अब हम जानते हैं कि 

डिमैट अकाउंट क्या होता है ?( what is demat account)

डिमैट अकाउंट एक ऐसा अकाउंट होता है जिसकी मदद से आप शेयर मार्केट में निवेश कर सकते हैं अगर किसी व्यक्ति को शेयर मार्केट में निवेशक बनना है तो उसे अपना डिमैट अकाउंट खोलना होगा यह ठीक उसी प्रकार है 

जैसे कि किसी व्यक्ति को अपने बैंक खाते से दूसरे व्यक्ति के बैंक खाते में पैसे भेजने हैं तो उसे बैंक खाते का होना जरूरी है इसी प्रकार अगर किसी व्यक्ति को शेयर का आदान प्रदान करना है तो उसके पास डीमैट अकाउंट का होना बहुत ही आवश्यक है

डिमैट अकाउंट की मदद से ही व्यक्ति अपने शेयर को खरीद और बेच सकता है बिना डिमैट अकाउंट के व्यक्ति शेयर को ले भी नहीं सकता और बेच भी नहीं सकता

डिमैट अकाउंट के अंदर share जो होते हैं वह डिजिटल फॉर्म में सुरक्षित रहते हैं डीमेट अकाउंट का मतलब होता है Dematerialized जिसको आप छू नहीं सकते मैं आपको बता दूं अगर आप किसी व्यक्ति को अपने डीमेट अकाउंट से शेयर बेच देते हैं तो वह शेयर के पैसे आपके खाते में 1 या 2 दिन में आते हैं

Demat account मैं हम क्या Hold कर सकते हैं

अगर किसी व्यक्ति के पास डिमैट अकाउंट है तो वह उसमें बहुत सारी चीजें रख सकता है जैसे कि शेयर, स्टॉक, प्रारंभिक सार्वजनिक प्रस्ताव, डिजिटल गोल्ड, बॉन्ड, गैर-परिवर्तनीय डिबेंचर, एक्सचेंज ट्रेडेड फंड, म्यूचुअल फंड |

अगर मैं आपको सरल भाषा में समझाना चाहूं तो डीमेट अकाउंट का सीधा सा मतलब यही है कि आप उसमें अपने शेयर को डिजिटल फॉर्म में रख सकते हैं और जब आप अपनी मर्जी चाहे उसे खरीद भी सकते हैं किसी और के शेयर को और अपने शेयर को बेच भी सकते हैं |

तो आइए हम आपको बताते हैं कि भारत के सबसे बेस्ट एप्लीकेशन जिसकी मदद से आप ट्रेडिंग कर सकते हैं (Best trading application )

1. Upstox app

2. Angel one by angel broking

3. Groww app by mutual funds

4. Zerodha trading apps

5. 5paisa app

यह थी कुछ ऐप की सूची जिसकी मदद से आप आसानी से ट्रेडिंग कर सकते हैं | Demat account app list 

• तो आइए अब हम बात करते हैं डीमेट अकाउंट के कुछ फायदे और कुछ नुकसान के बारे में ऐसा तो कभी नहीं होता कि किसी चीज का फायदा ही हो नुकसान ना हो इसी प्रकार डीमेट अकाउंट के भी कुछ फायदे हैं 

और कुछ नुकसान है तो आज मैं आपको सबसे पहले डिमैट अकाउंट के फायदे के बारे में बताऊंगा उसके बाद मैं आपको डिमैट अकाउंट के नुकसान के बारे में बताऊंगा

डिमैट अकाउंट के फायदे 

#1 डिमैट अकाउंट हमेशा व्यक्ति के लिए जब हम समय की बात करें तो वह फायदेमंद होता है क्योंकि डिमैट अकाउंट की मदद से शेयर की कार्यवाही 2 दिनों में ही हो जाती है 

लेकिन पहले के समय में कागज कार्रवाई होने के कारण 14 दिन लग जाते थे इसी के कारण बहुत समय चला जाता था लेकिन डिमैट अकाउंट के आते ही यह सब बहुत ही आसान हो चुका है तो आइए अब हम दूसरे फायदे के बारे में बात करते हैं

#2  डीमेट अकाउंट की मदद से आप अपने शेयर को किसी भी अन्य व्यक्ति को ट्रांसफर कर सकते हैं चाहे वह कितनी भी हो अगर आप चाहते हैं कि एक शेर आप किसी और व्यक्ति को दे दे तो आप demat अकाउंट की मदद से आसानी से आप अपना एक शेयर किसी दूसरे व्यक्ति को दे सकते हैं

डीमेट अकाउंट क्या होता है | What is Demat Account | इसके नुकसान और फायदे

#3  सबसे महत्वपूर्ण बात और सबसे महत्वपूर्ण फायदा यही है कि आपके लिमिट अकाउंट की मदद से खरीदेगा शेयर या जो शेर डीमेट अकाउंट के अंदर पहले से हैं

 एकदम सुरक्षित रहते हैं पहले के समय में ऐसा नहीं था पहले हमें शेयर चोरी होने की संभावना भी लगी रहती थी और खोलने की भी संभावना लगी रहती थी लेकिन जब से शेयर मार्केट डिजिटलाइज हो गया है और 

हम डिजिटल फॉर्म में शेयर को रख सकते हैं तब से यह डिमैट अकाउंट के अंदर एकदम सुरक्षित रहता है और हमें चोरी होने का भी डर नहीं रहता है तो आइए अब हम चौथे फायदे के बारे में बात करते हैं

#4  पहले के समय में जब ऑफलाइन काम हुआ करता था यानी कि मैनुअल काम हुआ करता था तब बहुत ही सारी गलतियां आने की संभावना रहती थी 

और ट्रेड की एक आदि गलती भी हो सकती थी लेकिन जब से यह डिजिटलाइज हो गया है हमारे डिमैट अकाउंट आ चुका है तब से यह गलती नहीं होती है

मैं उम्मीद करता हूं कि आपको डीमेट अकाउंट के सारे फायदे अच्छे से समझ आ गए होंगे क्योंकि बहुत ही ज्यादा अंतर आ चुका है पहले के समय में और अभी के समय में जब से डीमेट अकाउंट आया है 

तब से हमारे जो शेर होते हैं वह डिजिटल फॉर्म में हो चुके हैं और यह बहुत ही फायदेमंद हमारे लिए रहता है लेकिन ऐसा नहीं है कि हर बार फायदेमंद ही हो तो मैं आपको अब डीमेट अकाउंट के कुछ नुकसान के बारे में जानकारी देना चाहूंगा |

डीमेट अकाउंट के नुकसान

#1 जब से शेयर मार्केट डिजिटलाइज हो गया है तब से व्यक्ति को अगर शेयर मार्केट में निवेश करना है तो उसे तकनीकी जानकारी होना बहुत ही आवश्यक है क्योंकि यह सब डिजिटल फॉर्म में होता है

 और जब आपको शेयर मार्केट में अगर पैसा निवेश करना है तो उसके लिए आपको अपना कंप्यूटर का तो प्रयोग करना ही होगा अगर आप कंप्यूटर का प्रयोग करते हैं तो आपको तकनीकी जानकारी होनी 

चाहिए क्योंकि आप अपने नुकसान होने से तभी बच पाएंगे जब आपको कंप्यूटर के बारे में जानकारी होगी कि आप को कंप्यूटर कैसे चलाना है कंप्यूटर की मदद से आप शेयर कैसे खरीद सकते हैं कैसे भेज सकते हैं अपने पोर्टफोलियो को कैसे मैनेज कर सकते हैं तो सबसे पहला नुकसान हमें यही है कि हमें तकनीकी अगर जानकारी नहीं होगी तो हमें भारी नुकसान झेलना पड़ेगा 

#2  जब हम बात करते हैं डिमैट अकाउंट के बारे में तो आपके मन में यह ख्याल तो आता ही होगा कि डीमेट अकाउंट का वार्षिक रखरखाव शुल्क कितना होगा वार्षिक रखरखाव शुल्क भी आपके लिए कभी कबार नुकसान भी 

हो सकता है क्योंकि मान लीजिए अगर आपके डिमैट अकाउंट में एक ही शेर है और उसका जो मूल्य है वह बहुत ही कम है लेकिन जब बात करें वार्षिक रखरखाव शुल्क की तो है तो आप को जितना है उतना ही देना पड़ेगा तो कई बार आपको अपने शेर से अधिक शुल्क भी देना पड़ सकता है

FAQ

1. डीमैट अकाउंट के नुकसान क्या है?

अगर किसी व्यक्ति के डीमेट अकाउंट में KYC नहीं करी गई है तो वहां शेयर का आदान प्रदान नहीं कर पाएगा और साथ ही वो स्टॉक मार्केट में ट्रेड भी नहीं कर पाएगा |

2. डीमेट अकाउंट क्या काम आता है ?

डीमेट अकाउंट एक ऐसा खाता होता है जिसकी मदद से आप अपने शेयर को डिजिटल फॉर्म में सेव रख सकते हैं और डिलीट अकाउंट की मदद से बड़ी

आसानी से आप अपने शहर को बेच भी सकते हैं और नए शेयर को खरीद भी सकते हैं इसके लिए आपको वार्षिक शुल्क देना पड़ेगा |

3. डीमैट खाता खुलवाना आवश्यक है?

जी हां अगर कोई व्यक्ति शेयर मार्केट में अपना पैसा लगाना चाहता है यानी कि स्टॉक मार्केट में अपना पैसा निवेश करना चाहता है तो उसके पास डीमेट अकाउंट होना बहुत ही आवश्यक है |

निष्कर्ष

आज के इस पूरे आर्टिकल में मैंने आपको जानकारी नहीं है कि डीमेट अकाउंट क्या है और इसके फायदे क्या है और इसके नुकसान क्या है अगर आपने हमारा पूरा आर्टिकल अच्छे 

से बड़ा होगा तो मैं उम्मीद करता हूं आपको सारी चीजें अच्छे से समझ आ गई होगी अगर आपको कुछ भी जानकारी समझ नहीं आती है तो आप हमें नीचे कमेंट करके पूछ सकते हैं धन्यवाद |

Vishal Raihttps://vishalsesikho.in
Namashkar Dosto Mera Name Vishal Rai Hai Mai UP Ka Rahne Wala Hoon Mai Es Website Ka CEO & Founder Hoon Mujhe 3 Saalo Ka Blogging Experience Hai Hamesha Koshish Rahta hai Aapko Kuch Naya Sikhau
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular